PM Awas Yojana 2023 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया, स्टेटस चेक तथा लिस्ट देखने की पूरी प्रक्रिया जानें

PM Awas Yojana 2023 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया, स्टेटस चेक तथा लिस्ट देखने की पूरी प्रक्रिया जानें

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक महत्वपूर्ण सरकारी योजना है जो गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को सस्ते और सुरक्षित आवास प्रदान करने का उद्देश्य रखती है। यह योजना 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई थी और इसका मुख्य उद्देश्य था कि साल 2022 तक हर बेघर नागरिक को स्वयं का पक्का मकान मिले।
PMAY के तहत, योजना के अनुसार वित्तीय सहायता दी जाती है जिससे कि लोग अपने घर का निर्माण कर सकें। इसके तहत कई उपयोजनाएं शामिल हैं, जैसे कि:
  1. PMAY ग्रामीण (PMAY-G): ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब परिवारों के लिए आवास योजना।
  2. PMAY शहरी (PMAY-U): शहरी क्षेत्रों में गरीब परिवारों के लिए आवास योजना।
  3. स्वप्न योजना: इसके तहत गरीब परिवारों को लोन की सुविधा प्रदान की जाती है ताकि वे अपने सपने का घर खरीद सकें।
  4. क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS): इसके तहत आय के साथ आवास लोन के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है, जिससे लोगों को आवास के लिए वित्तीय सहायता मिलती है।
PMAY 2023 का मुख्य उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को स्वयं का घर प्रदान करना था, जिससे कि वे किराये पर मकान न लेने के बजाय खुद के घर में रह सकें। यह योजना भारत के गरीब और असहाय लोगों के लिए महत्वपूर्ण है और उन्हें सुरक्षित और आदर्श आवास प्रदान करने का लक्ष्य रखती है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के कार्यकाल में कई अन्य महत्वपूर्ण योजनाएं भी शुरू की गई हैं, जिनमें से कुछ का उल्लेख आपने किया है, और ये योजनाएं गरीबों और जरूरतमंदों के लिए विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान करने का उद्देश्य रखती हैं।
PM Awas Yojana 2023 – संक्षिप्त जानकारी
लेख का नाम
Pradhan Mantri Awas Yojana 2023 (प्रधान मंत्री आवास योजना)
जारीकर्ता
केंद्र सरकार
उद्देश्य
भारत के गरीब परिवारों को पक्के घर प्रदान करना
कितने रुपये देय
1.3 लाख रुपये
PMAY योजना शुरू होने की तिथि
25 जून 2015
विभाग का नाम
भारत सरकार आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय
श्रेणी
सरकारी योजना
आधिकरिक वेबसाइट
https://pmaymis.gov.in/
प्रधानमंत्री आवास योजना – PMAY G का उद्देश्य क्या हैं?
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को स्वयं का पक्का आवास प्रदान करना है। इसके तहत, वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है जिससे कि लोग खुद के घर का निर्माण कर सकें और अच्छे आवास में रह सकें।
इस योजना के अंतर्गत, निम्नलिखित प्रमुख उद्देश्य होते हैं:
  1. स्वयं का घर: PMAY-G के तहत, गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को स्वयं का पक्का घर प्रदान करना गरीबी से निकलने में मदद करता है।
  2. स्वच्छता और आवासीय सुधार: योजना के तहत निर्माण होने वाले घरों को स्वच्छ और आवासीय बनाने का प्रयास किया जाता है, जिससे लोगों का जीवन बेहतर होता है।
  3. महिला और वर्गीय समाज के लिए लाभ: PMAY-G के अंतर्गत, महिलाओं और वर्गीय समाज के लोगों को खास ध्यान दिया जाता है और उन्हें आवास के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  4. गरीबी की ताकत को कम करना: यह योजना गरीबी की ताकत को कम करने में मदद करती है और लोगों को अधिक सुरक्षित और स्थिर आवास प्रदान करने का उद्देश्य रखती है।
PMAY-G के अंतर्गत, उपयोगकर्ता आवास योजना के तहत वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए पात्र होते हैं, और उन्हें उनके निवास स्थान की विशेष योग्यता के आधार पर चयन किया जाता है।
इसके अलावा, यह योजना भारत सरकार के “हौसिंग फॉर अल्ल” (हर किसी के लिए आवास) कार्यक्रम का हिस्सा है और गरीबी से पीड़ित परिवारों को उनके खुद के घर का मालिक बनाने का मौका प्रदान करता है।
PM Awas Yojana Gramin के लाभ
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) के तहत गरीबों को पक्के घर बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे कि वे अपने जीवन को सुरक्षित और आदर्श आवास में बिता सकें। यह योजना के लाभार्थी के लिए कुछ मुख्य लाभ हैं:
  1. आवास का मिलना: PMAY-G के तहत गरीब परिवारों को पक्का आवास मिलता है, जिससे उनका जीवन सुरक्षित और आदर्श आवास में बितता है।
  2. वित्तीय सहायता: पहाड़ी इलाकों में रहने वालों को 1 लाख 30 हजार रुपये और मैदानी इलाकों में रहने वालों को 1 लाख 20 हजार रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे वे अपने घर का निर्माण कर सकते हैं।
  3. गरीबी से मुक्ति: इस योजना के माध्यम से गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को उनके खुद के पक्के आवास में रहने का मौका मिलता है, जिससे वे गरीबी से मुक्त होते हैं और सुरक्षित जीवन जी सकते हैं।
  4. स्वच्छता और आवासीय सुधार: यह योजना घरों को स्वच्छ और आवासीय बनाने का प्रयास करती है, जिससे लोगों के आवास की स्वच्छता और हानिप्रद प्रतिरक्षा में सुधार होता है।
  5. बजट बढ़ोतरी: आपने सही बताया है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने साल 2023-24 के लिए पीएम आवास योजना के बजट को बढ़ाकर 79,000 करोड़ रुपये किया है, जिससे योजना के लाभार्थियों को और भी मदद मिलेगी।
PMAY-G एक महत्वपूर्ण सरकारी योजना है जो गरीबी से पीड़ित परिवारों को उनके खुद के घर का मालिक बनाने का मौका प्रदान करती है और उनके जीवन को सुरक्षित और सुखमय बनाने में मदद करती है।
PM Awas Yojana Gramin पात्रता क्या है?
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) के तहत आवेदन करने के लिए निम्नलिखित पात्रता मानदंड होते हैं:
  1. बेघर परिवार: आवेदनकर्ता का परिवार बेघर होना चाहिए, यानि किसी भी परिवार के सदस्यों के पास खुद का पक्का आवास नहीं होना चाहिए।
  2. कमरे का अभाव: आवेदनकर्ता का परिवार उन्होंने खुद का कमरा नहीं रखने के लिए किसी भी कमरे का अभाव होना चाहिए।
  3. अशिक्षित सदस्य: परिवार में 25 वर्ष से अधिक आयु वाले कोई भी सदस्य पढ़ा-लिखा (साक्षर) नहीं होना चाहिए।
  4. नागरिकता: आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए और उसकी नागरिकता होनी चाहिए।
  5. आयु सीमा: आवेदक की उम्र 18 साल से अधिक होनी चाहिए।
  6. खुद का पक्का घर नहीं: आवेदक का परिवार किसी भी पक्के घर का मालिक नहीं होना चाहिए।
  7. स्वीकृति बीपीएल सूची में: आवेदक का नाम वोटर लिस्ट में होना चाहिए और उनका नाम सरकारी बीपीएल (बेलो वर्ड बीपीएल) सूची में शामिल होना चाहिए।
  8. पहले से प्रॉपर्टी नहीं: आवेदक के परिवार के किसी भी सदस्य के पास पहले से कोई पक्की प्रॉपर्टी (जमीन/आवास) नहीं होनी चाहिए।
  9. आय सीमा: आवेदक की सालाना आय 3 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  10. अनुसूचित और अल्पसंख्यक वर्ग: इस योजना के लाभार्थी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य, और अल्पसंख्यक वर्ग से आने वाले उम्मीदवार हो सकते हैं।
  11. कोई वयस्क सदस्य नहीं: परिवार में कोई भी सदस्य 16 वर्ष से 59 वर्ष तक का नहीं होना चाहिए।
  12. कोई ज़मीन नहीं: आवेदक का परिवार किसी भी सदस्य के नाम पर कोई ज़मीन नहीं होनी चाहिए।
  13. पहचान प्रमाण पत्र: आवेदक के पास पहचान प्रमाण पत्र होना चाहिए, जैसे कि आधार कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड आदि।
  14. घर की अवस्था: आवेदक का परिवार किसी भी सदस्य के नाम पर कोई घर नहीं होना चाहिए, और सदस्य जीवन यापन हेतु दिहाड़ी मजदूरी करता हो।
इन पात्रता मानदंडों को फॉलो करके गरीब परिवार PMAY-G के तहत घर बनाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।
प्रधानमंत्री आवास योजना – शहरी पात्रता
प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी (PMAY-U) के तहत आवेदन करने के लिए निम्नलिखित पात्रता मानदंड होते हैं:
  1. पक्का घर की अभाव: आवेदक या उनके परिवार के सदस्यों के पास देश के किसी भी हिस्से में पक्का घर नहीं होना चाहिए।
  2. परिवार का संरचना: परिवार में पति, पत्नी और अविवाहित बच्चे को शामिल होना चाहिए।
  3. नगर/शहर में निवास: जिस नगर/शहर में परिवार रहता है, उसे इस योजना के तहत कवर किया जाना चाहिए।
  4. अन्य आवास संबंधित योजनाओं का लाभ नहीं: परिवार को भारत सरकार द्वारा जारी किसी भी अन्य आवास संबंधित योजनाओं का लाभ नहीं लेना चाहिए।
  5. आय की वर्गीकरण: आवेदक को एलआईजी / एमआईजी -1 / एमआईजी -2 / ईडब्ल्यूएस में से किसी एक वर्ग में शामिल होना चाहिए।
यदि आवेदक इन पात्रता मानदंडों को पूरा करता है, तो वे प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत आवेदन कर सकते हैं और घर के निर्माण के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकते हैं।
PM Awas Yojana – अपवाद
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) के अंतर्गत यह अपवाद लागू होते हैं जो निम्नलिखित स्थितियों पर आधारित होते हैं:
  1. मोटर चालित वाहन या नाव: यदि किसी परिवार के किसी सदस्य के पास मोटर चालित दोपहिया, तिपहिया, चार पहिया, कृषि उपकरण या मछली पकड़ने की नाव है, तो वे PMAY-G के लिए पात्र नहीं होते हैं।
  2. किसान क्रेडिट कार्ड (के.सी.सी.): जिन उम्मीदवारों के पास किसान क्रेडिट कार्ड (के.सी.सी.) है और उसकी सीमा 50,000 रुपये से अधिक है, उनको PMAY-G के तहत घर बनाने के लिए अपवाद की श्रेणी में रखा जाता है।
  3. सरकारी कर्मचारी: यदि कोई परिवार का कोई सदस्य सरकारी कर्मचारी है और उसकी सैलरी 10,000 रुपये से अधिक है, तो वे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।
  4. आयकर या पेशेवर कर का भुगतान: यदि कोई व्यक्ति आयकर, पेशेवर कर का भुगतान करता है या उनके पास एक रेफ्रिजरेटर या लैंडलाइन फोन कनेक्शन का मालिक है, तो वे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं पा सकते हैं।
यह अपवाद के तहत कुछ स्पष्ट प्रतिबंध हैं जो निर्धारित करते हैं कि कौन प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उठा सकता है और कौन नहीं।
PM Awas Yojana से जुड़े महत्वपूर्ण दस्तावेज क्या हैं?
प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन करते समय आपको निम्नलिखित महत्वपूर्ण दस्तावेज की आवश्यकता होती है:
  1. फ़ोटो युक्त प्रमाणपत्र: आपका पहचान प्रमाणपत्र जैसे कि आधार कार्ड, पैन कार्ड, निर्वाचन कार्ड, पासपोर्ट, या ड्राइविंग लाइसेंस आवश्यक होता है।
  2. आधार कार्ड: आपके आधार कार्ड की कॉपी आवश्यक होती है।
  3. बैंक खाते का पासबुक: आपके बैंक खाते का पासबुक जिसमें आपका खाता है, यह आवश्यक होता है क्योंकि योजना के तहत वित्तीय सहायता बैंक खाते में प्रदान की जाती है।
  4. रंगीन फ़ोटो: आपकी एक रंगीन फोटो जरूरी होती है, जो आवेदन के साथ जमा की जाती है।
  5. आय प्रमाण पत्र: आपकी सालाना आय को सिद्ध करने के लिए आय प्रमाण पत्र या आय सर्टिफिकेट जरूरी होता है।
  6. निवास का पता: आपके निवास का स्थायी पता और पूर्व के निवास का पता (यदि लागू हो) आवश्यक होता है।
  7. जाति प्रमाण पत्र: अगर आप अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, या अल्पसंख्यक वर्ग से हैं, तो आपके पास जाति प्रमाण पत्र की कॉपी होनी चाहिए।
  8. मोबाइल नंबर: आपका सक्रिय मोबाइल नंबर जरूरी होता है क्योंकि आवेदन की स्थिति और संदेश प्राप्ति के लिए यह उपयोगी होता है।
आपको निवेदन करते समय यह सुनिश्चित करें कि आपके पास सभी आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध हैं, और इन्हें आवेदन प्रक्रिया के दौरान सही तरीके से जमा करें। आपके द्वारा प्रस्तुत दस्तावेजों की पूर्णता और सटीकता आवेदन की स्वीकृति के लिए महत्वपूर्ण होती है।

PM Awas Yojana 2023 Online Apply कैसे करें?

यदि आप साल 2023 में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवेदक PM Awas Yojana Apply Online करके अपना खुद का पक्का मकान बनवाने की सोच को पूरा कर सकते हैं, उम्मीदवार नीचे दिए गए सभी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को पढ़कर, अपना प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन खुद कर सकते हैं या जनसेवा केंद्र के माध्यम से करा सकते हैं ।
  • सबसे पहले PM Awas Yojana की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद मेनू पर क्लिक करें।
  • जिसके बाद होम पेज के Menu में “Citizen Assessment”  लिखा होगा उसपर क्लिक करें।

  • सिटीजन असेसमेंट पर क्लिक करने के बाद 4 विकल्प खुल कर आएंगे जो है- Slum Dwellers और Benefits Under 3 Components से किसी एक का चुनाव करें।
  • उसके बाद आपको 12 डिजिट वाले आधार कार्ड का नंबर डालना है और आधार कार्ड के अनुसार अपना नाम और पते का विवरण भरना है और चेक के विकल्प पर क्लिक करना है।

  • उसके बाद ऑनलाईन आवेदन फार्म में मांगी गई जानकारियां को भरना है, जो इस प्रकार है, जैसे परिवार के मुखिया का नाम,पिता का नाम, राज्य का नाम, जिले का नाम, उम्र, वर्तमान स्थाई पता, मोबाईल नंबर, जाति, आधार संख्या, इत्यादि।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दें।

  • क्लिक करने के बाद आपका आवेदन सफलतापूर्वक Pradhanmantri Aawas Yojana 2023 के लिए हो जाएगा जिसके बाद आप उस प्रिंटआउट को निकाल कर रख सकते हैं। आवेदन करने के बाद आवेदक चाहें तो ऑनलाइन माध्यम से PMAY Status भी देख सकते हैं, PM Awas Yojana सब्सिडी कैलकुलेट कर सकते हैं l
PM Awas Yojana List 2023 कैसे देखें?

यदि आप प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर चुके हैं और Pm Awas Yojana List 2023 को देखना चाहते हैं की आपका नाम आया है या नहीं तो नीचे दिए गए सभी स्टेप को ध्यानपूर्वक पढ़ें।
  • Pm Awas Yojana List 2023 की लेटेस्ट सूची देखने के लिए PMAY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होम पेज खोलने के बाद मेनू पर क्लिक करें और
    “Search Beneficiary” पर क्लिक करें।

  • उसके बाद अपना रजिस्टर मोबाइल नंबर दर्ज करके सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करें।

  • उसके बाद आप प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लाभार्थी सूची में अपना नाम देख सकते है एवं अन्य जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा आप पीएम आवास योजना ग्रामीण सूची पीडीएफ़ भी डाउनलोड कर सकते हैं।

PM Awas Yojana 2023 FAQs

PM Awas Yojana का उद्देश्य क्या है?
प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले बेघर परिवार को स्वयं का घर बनवाने के लिए राशि प्रदान कराना है l
प्रधान मंत्री आवास योजना के लाभ क्या है?
प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत गरीब लोगों के पक्के मकान बनाए जाते हैं एवं गरीब परिवारों को सरकार द्वारा घर बनवाने के लिए राशि प्रदान की जाती है l
PM Awas Yojana के तहत कितनी राशि मिलती है?
प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत पहाड़ी इलाकों में रहने वाले गरीबों को घर बनाने के लिए 1 लाख 30 हजार रुपये और मैदानी इलाकों में 1 लाख 20 हजार रुपये की मदद देती है l

Leave a Comment