सितंबर 2023 में भारत की खुदरा महंगाई दर 6.83% से घटकर 5.02% हो गई

सितंबर 2023 में भारत की खुदरा महंगाई दर 6.83% से घटकर 5.02% हो गई

 

सितंबर 2023 में भारत की खुदरा महंगाई दर 6.83% से घटकर 5.02% हो गई है। यह पिछले दो साल में सबसे कम है। महंगाई दर में कमी आने का मुख्य कारण सब्जियों और फलों की कीमतों में गिरावट है। पिछले महीने की तुलना में सितंबर में सब्जियों की कीमतें 26.14% कम हो गई हैं, जबकि फलों की कीमतें 13.82% कम हो गई हैं। दाल और उससे जुड़े प्रोडक्ट्स की कीमतों में मामूली वृद्धि हुई है।
महंगाई दर में कमी आने से आम लोगों को राहत मिलेगी। हालांकि, यह अभी भी RBI के लक्ष्य से काफी अधिक है। RBI ने चालू वित्त वर्ष के लिए खुदरा महंगाई दर को 6% पर रखने का लक्ष्य रखा है।
सितंबर में खुदरा महंगाई दर के आंकड़े इस प्रकार हैं:
  • देश में खुदरा महंगाई दर: 5.02%
  • शहरी क्षेत्रों में खुदरा महंगाई दर: 4.65%
  • ग्रामीण क्षेत्रों में खुदरा महंगाई दर: 5.33%
अगस्त में खुदरा महंगाई दर के आंकड़े इस प्रकार थे:
  • देश में खुदरा महंगाई दर: 6.83%
  • शहरी क्षेत्रों में खुदरा महंगाई दर: 6.59%
  • ग्रामीण क्षेत्रों में खुदरा महंगाई दर: 7.02%
महंगाई दर में कमी आने के कारणों की व्याख्या इस प्रकार की जा सकती है:
  • सब्जियों और फलों की कीमतों में गिरावट: सितंबर में सब्जियों और फलों की कीमतों में गिरावट आई है। इसका मुख्य कारण मानसून का अंत और मौसम में ठंडक का बढ़ना है।
  • दाल और उससे जुड़े प्रोडक्ट्स की कीमतों में मामूली वृद्धि: सितंबर में दाल और उससे जुड़े प्रोडक्ट्स की कीमतों में मामूली वृद्धि हुई है। इसका मुख्य कारण उत्पादन में कमी और मांग में वृद्धि है।
महंगाई दर में कमी आने से आम लोगों को राहत मिलेगी। हालांकि, यह अभी भी RBI के लक्ष्य से काफी अधिक है। RBI को महंगाई दर को नियंत्रण में लाने के लिए और कदम उठाने होंगे।

Leave a Comment