बिहार सामान्य ज्ञान ( Bihar General Knowledge )

बिहार सामान्य ज्ञान ( Bihar General Knowledge )

 

बिहार, भारत के 28 राज्यों में से एक है और इसका स्थान भारतीय इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण स्थलों में से एक माना जाता है। बिहार राज्य का नाम इसके प्राचीन धार्मिक और सांस्कृतिक धरोहर के कारण महत्वपूर्ण है।
बिहार सामान्य ज्ञान ( Bihar General Knowledge )
बिहार का नामकरण: बिहार का नाम अपने ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व के कारण हुआ है। ‘बिहार’ शब्द संस्कृत शब्द ‘विहार’ का अपभ्रंश है, जिसका शाब्दिक अर्थ बौद्ध मठ होता है। इसे ऐसा कहा जाता है क्योंकि इस क्षेत्र में बौद्ध धर्म के महाविहार (मठ) थे और यहाँ पर बौद्ध धर्म के महान गुरु जैसे महावीर, बुद्ध, और महाविश्वनाथ ने उपदेश दिया था।
प्रागैतिहासिक युग: प्रागैतिहासिक युग में, इस क्षेत्र में मानव निवास करता था, और इसका साक्ष्य छपरा (वर्तमान में सारण जिला) के चिरांद में मिला है। यह साक्ष्य प्रागैतिहासिक काल के पाषाणकाल के हैं, जो इस क्षेत्र के प्राचीन इतिहास की महत्वपूर्ण खंड हैं।
बौद्ध काल: बौद्ध काल में, बिहार क्षेत्र में सोलह महाजनपदों में से तीन प्रमुख महाजनपद – वज्जी, अंग, और मगध – थे। इन महाजनपदों के शासकों के प्रमुख नाम भी महत्वपूर्ण हैं, और इनका योगदान भारतीय इतिहास के स्थापना में महत्वपूर्ण रहा है।
विश्वविद्यालय: बिहार राज्य भारत के तत्कालीन तीन प्रमुख विश्वविद्यालयों के लिए भी प्रसिद्ध है – नालंदा विश्वविद्यालय (वर्तमान नालंदा जिले में), ओदंतपुर विश्वविद्यालय (बिहार शरीफ), और विक्रमशिला विश्वविद्यालय (वर्तमान भागलपुर जिले में)। इन विश्वविद्यालयों ने भारतीय शिक्षा और संस्कृति को प्रमोट करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
बिहार दिवस: प्रतिवर्ष 22 मार्च को ‘बिहार दिवस’ मनाया जाता है, जिसका मकसद बिहार राज्य की स्थापना की यात्रा को याद करना और इसके महत्वपूर्ण इतिहास को मनाना है।
सीमा: बिहार का स्थान भारत के उत्तर में नेपाल, दक्षिण में झारखंड, पश्चिम में उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश, और पूर्व में पश्चिम बंगाल राज्य से संघटित है। इसका कुल भौगोलिक क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किमी है, जो भारत के कुल भौगोलिक क्षेत्रफल का 3.1% है।
बिहार का इतिहास और सांस्कृतिक धरोहर भारतीय इतिहास के महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में माना जाता है, और यह एक अद्वितीय और धनी संस्कृति का पालन करता है जिसमें प्राचीनतम समय से लेकर मध्यकालीन और आधुनिक काल तक कई महत्वपूर्ण घटनाएं और विशेषज्ञताएँ शामिल हैं।
राज्य का नाम
बिहार
राजधानी
पटना
स्थापना
1 अप्रैल 1912
राज्यपाल
फागू चौहान
मुख्यमंत्री
नीतीश कुमार
क्षेत्रफल
94,163 वर्ग किमी. ( देश में 12 वां स्थान )
जनसंख्या
104,099,452 ( देश में तीसरा स्थान ) { जनगणना 2011 के अनुसार }
सर्वाधिक क्षेत्रफल वाला जिला
पश्चिमी चंपारण
न्यूनतम क्षेत्रफल वाला जिला
शिवहर
विस्तार
24°20′ N अक्षांश से 27°31′ N अक्षांश तथा 82°19′ E देशांतर से 88°17′ E देशांतर तक
कुल संभाग / मंडल
9
कुल जिले
38
लोकसभा सदस्य
40
राज्यसभा सदस्य
16
विधानसभा सदस्य
243
विधान परिषद सदस्य
75
सर्वाधिक जनसंख्या वाला जिला
पटना
न्यूनतम जनसंख्या वाला जिला
शेखपुरा
साक्षरता
61.80%
पुरुष – 73.39%
स्त्री – 53.33%
सर्वाधिक साक्षरता दर वाला जिला
रोहतास (75.59%)
न्यूनतम साक्षरता दर वाला जिला
पूर्णिया (52.49%)
लिंगानुपात
916
प्रथम राज्यपाल
जयरामदास दौलतराम
प्रथम मुख्यमंत्री
श्रीकृष्ण सिंह
राजकीय वृक्ष
पीपल
राजकीय पुष्प
गेंदा
राजकीय पक्षी
गौरैया
राजकीय पशु
बैल
प्रमुख नदियाँ
गंगा , कोसी , सोन , गंडक
उच्च न्यायलय
पटना
भाषा
हिंदी , उर्दू
प्रमुख बोलियाँ
बिहारी , भोजपुरी
प्रमुख लोकगीत
बिरहा , चैती , कजरी
प्रमुख मेले एवं उत्सव
हरिहर क्षेत्र ( सोनपुर ) का मवेशी मेला { एशिया का सबसे बड़ा राजकीय मवेशी मेला } , पितृपक्ष मेला , बुद्ध पूर्णिमा मेला , कुँवर सिंह मेला
प्रमुख खनिज
चूना पत्थर , डोलोमाइट , मैग्नेसाइट , सोपस्टोन , जिप्सम , ग्लास सैंड , संगमरमर , फ़ॉसफ़ोराइट ,
वन्य जीव अभ्यारण्य
भीमबांध अभ्यारण्य मुंगेर , राजगीर अभ्यारण्य राजगीर , वाल्मीकि नगर चंपारण , गौतम बुद्ध अभ्यारण्य गया , कांवर झील पक्षी अभ्यारण्य बेगूसराय
वनों का क्षेत्रफल
7.23 % ( 6,804 वर्ग किमी. )
वेबसाइट
http://gov.bih.nic.in/

Leave a Comment